इलाहाबाद छात्रसंघ में फहराया सपाई झंडा, एबीवीपी झंडूबॉम

: युवाओं ने खारिज कर दिया भाजपा की सारी कवायदें, संगठन में अब चलेगी समाजवादी पार्टी की रंगबाजी : अवनीश यादव बने अध्यक्ष,  लेकिन महासचिव की कुर्सी एबीवीपी के हाथों :

मेरीबिटियाडॉटकॉम संवाददाता

इलाहाबाद : हालांकि अब वह फिजां नहीं बच पायी है इलाहाबाद की, जो कभी हुआ करती थी। लेकिन आज आये छात्रसंघ चुनाव के नतीजों ने एक गजब क्रांतिकारी रंगत दिखा दी है। गेरूआ-भगवा अंदाज को पूरी तरह खारिज कर यहां के छात्रों ने भाजपाई कवायदों को करीब-करीब खारिज ही कर दिया है। अध्‍यक्ष की कुर्सी समाजवादी पार्टी के अवधेश यादव के खाते में गयी है, और महासचिव का पद छोड़ कर बाकी अहम पदों पर गैर-भगवा रंगत का ही माहौल चस्‍पां हो चुका है।

एक दौर हुआ करता था जब इलाहाबाद को पूरब का ऑक्सफोर्ड कहा जाता था। लेकिन पिछले करीब दो दशकों से यह दावा अब केवल थोथे इतिहास तक ही सिमट चुका है। लेकिन इसके बावजूद इलाहाबाद विश्‍वविद्यालय छात्रसंघ के छात्रों ने अपनी पुरवइया का एक जबर्दस्‍त झोंका और अंगड़ाई का प्रदर्शन कर दिया है। विश्वविद्यालय छात्र संघ चुनाव के परिणाम घोषित हो गए। इस परिणाम में समाजावादी पार्टी के छात्र संगठन का दबदबा रहा।

इलाहाबाद से जुड़ी खबरों को पढ़ने के लिए कृपया निम्‍न लिंक पर क्लिक कीजिए:-

संगम

बता दें कि सपा के छात्र संगठन समाजवादी छात्र सभा से अध्यक्ष पद पर अवनीश कुमार यादव, उपाध्यक्ष पद पर चंदशेखर चौधरी , संयुक्त सचिव पद पर भरत सिंह, सांस्कृतिक सचिव पद पर अवधेश कुमार पटेल ने जीत दर्ज की है। वहीं राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ  (RSS) के संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) के निर्भय कुमार द्विवेदी ने महामंत्री पद पर जीत दर्ज की है।  जीत दर्ज करने वाले प्रत्याशियों को 15 अक्टूबर को शपथ दिलाई जाएगी।  अध्यक्ष पद पर जीते अवनीश यादव बता दें कि इस परिणाम से ABVP को तगड़ा झटका लगा। वहीं इस दौरान यह अफवाह भी फैली कि उत्तर प्रदेश सरकार में उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह विश्वविद्यालय परिसर पहुंचे थे।

गौरतलब है कि  ABVP इससे पहले राजस्थान, पंजाब,जेएनयू,डीयू,उत्तराखंड, गुवाहाटी के कई कॉलेजों और विश्वविद्यालयों का चुनाव हार चुकी है। बता दें कि इलाहाबाद विश्वविद्यालय में वोटों की गिनती दोबारा कराई गई। इससे पहले शनिवार को ही विश्वविद्यालय समेत सभी संबंद्ध कॉलेजों में भी चुनाव कराए गए। इलाहाबाद डिग्री कॉलेज में विवेक कुमार त्रिपाठी अध्यक्ष, आशुतोष गुप्ता उपाध्यक्ष, पंकज दुबे महामंत्री, शिवम मिश्रा संयुक्त मंत्री और ज्योति रावत सांस्कृतिक सचिव चुने गए।   हालांकि दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ के दो प्रमुख सीटों पर जीत से उत्साहित कांग्रेस के छात्र संगठन नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (NSUI) का खाता नहीं खुल सका। NSUI पदाधिकारियों का आरोप है कि सरकार ने धांधली की है।