राखी सांवत फंस गयी कानूनी फंदे में,

धारा 306] 504 और 120 बी का केसः ब्रजलाल, एडीजी


झांसी के लक्ष्मण को नामर्द कहना पड गया भारी पड गया राखी पर: राखी का इंसाफ टीम के सभी सहयोगियों पर भी दर्ज हुआ मुकदमा: झांसी के प्रेमनगर थाने पर मृतक की मां ने दर्ज कराया मामला: रियलिटी शो के तौर-तरीकों खिलाफ लोगों का भडका आक्रोश
अपनी बेअंदाज दादागिरी के लिए कुख्यात हालीवुड की आइटम गर्ल राखी सांवत अब अदालत से इंसाफ मांगने पर मजबूर कर दी गयी हैं। प्रदेश की पुलिस ने राखी सांवत पर अपने एक सीरियल पर एक शख्स की मौत का जिम्मेदार बताने वाले एक मामले को दर्ज किया है। उन पर यह मामला झांसी के प्रेमनगर थाने में दर्ज किया गया है। अब तक की सबसे अभद्र कलाकार के तौर पर एक नयी पहचान बनाने वाली राखी सांवत पर यह मामला भारतीय दण्ड प्रकिया संहिता की धारा 306, 504 और 120 बी के तहत दर्ज कराया गया है।
गौरतलब है कि इमेजन टीवी पर चल रहे अपने एक रियलिटी शो राखी का इंसाफ नामक कार्यक्रम में राखी सांवत ने एक मामले में लक्ष्मण नामक एक युवक को नामर्द तक कह डाला था।
बहरहाल, अपने इस कार्यक्रम के दौरान ऐसे व्यवहार और उसके बाद लक्ष्मण नामक व्यक्ति की मौत के बाद हुए इस घटनाक्रम के बाद राखी सावंत तो असली अदालत के फंदे में फंस ही गयी हैं, साथ ही उन्होंने इस कार्यक्रम को बनाने वाले सहयोगियों समेत कई लोगों को भी बुरी तरह फंसा दिया है।
उप्र के अपर पुलिस महानिदेशक ब्रजलाल ने आज संवाददाताओं को बताया कि राखी सावंत के खिलाफ लक्ष्मण की मौत का जिम्मेदार मानते हुए एक मामला दर्ज कराया गया है। उन्होंने कहा कि यह मामला राखी सांवत के अलावा उक्त कार्यक्रम में शामिल अंगरक्षक, कैमरामैन, अन्य सहयोगी के अलावा उस पत्रकार पर भी दर्ज किया गया है जिसने लक्ष्मण को उक्त कार्यकम तक ले जाने में भूमिका निभाई थी।
हैरत की बात है कि राखी सांवत ने केवल लक्ष्मण को नामर्द ही नहीं कहा था, बल्कि इस कार्यकम के दौरान राखी ने उस व्यक्ति के बारे में एक निहायत गंदी और अश्लील टिप्पणी तक कर दी थी कि इनका तो दिल दरिया है और बाकी सब कुछ समुंदर। 
उधर झांसी में इस मामले मे मृतक लक्ष्मण की मां की तरफ से वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, झॉसी को एक प्रार्थना पत्र देकर राखी के खिलाफ मुकदमा लिखे जाने की फरियाद की गयी थी। इस अर्जी में लक्ष्मण की मॉ ने लिखा कि राखी के कार्यक्रम मे हिस्सा लेने के बाद उनका बेटा टेंशन में आकर बीमार हो गया, जिसको मेडिकल कालेज में दाखिल कराया गया । यहॉ पर उपचार के दौरान दिनांक दस नवम्बर को लक्ष्मण की मृत्यु हो गयी । वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, झॉसी द्वारा थाना प्रेमनगर पर अभियोग पंजीकृत कर विधिक कार्यवाही के निर्देश दिये गये है ।