Meri Bitiya

Wednesday, Nov 13th

Last update02:57:01 PM GMT

मेरी बिटिया डॉट कॉम अगर आपको पसंद हो, आप इस पोर्टल के लिए सुझाव, समाचार, निर्देश, शिकायत वगैरह भेजने के इच्‍छुक हों तो meribitiyakhabar@gmail.com पर हम आपकी प्रतीक्षा कर रहे है.

Advertisement

सैड सांग

सामूहिक बलात्कार भी झेला और दर्दनाक मौत भी

लखनउ। दरिंदे वहशियों का बलात्कार भी झेला और फिर अपनों से मिली दर्दनाक मौत। उम्र मात्र 13 साल। पुलिस खामोश। डाक्टर ने हाथ झाड लिया। यह है विकासशील और पूरी दुनिया में अपनी बुद्धि और ज्ञान का लोहा मनवाने का दावा करने वाले हम लोगों की खोखली हकीकत। तडप-तडप कर मरी इस बच्ची के लिए कम से कम मैं तो अपनी श्रद्धांजलियां अर्पित कर ही दूं, इस संकल्प के साथ कि ऐसी अमानवीय हरकतों के खिलाफ हम लोग अपना धर्म-युद्ध जारी रखेंगे। अंतिम दम तक। कानपुर का यह हादसा दिल दहला देने वाला है। हममें से ज्यादातर लोग इस खबर को पढ-सुन कर सिर झटक कर अपनी दिनचर्या में लग जाएंगे। लेकिन मैं पूछना चाहता हूं कि हमारी-आपकी बेटी के साथ अगर ऐसा हुआ होता तो आप लोग क्या यही करते। आज जरूरत तो उस परिवार के साथ खडे रहने की है। उन्हें सांत्वना देने की है और यह संकल्प लेने की है कि भविष्य में ऐसी बेटियां के साथ ऐसा ना होने दिया जाए।

Read more...

मादा भ्रूण हत्या का नंगा

मादा भ्रूण हत्या का नंगा

बकुल सौवीर और साशा सौवीर

लखनउ। मादा भ्रूण हत्या का नंगा सच देखना चाहते हैं आप ?
आइये हम आपको ले चलते हैं जौनपुर जहां कन्याभ्रूण हत्या के विरोध मे अभियान छेडे हुए एक निजी चिकित्सक और शिवांगी डायग्नोस्टिक्स सेंटर के मालिक डाक्टर देवप्रकाश सिंह के पास। डा देवप्रकाश सिंह आपको बतायेंगे कि किस तरह हम अपने घरों की महिलाओं के पेट में आने वाली संतानों का लिंग परीक्षण कराते हैं और वह भ्रूण अगर मादा निकला तो उसे गर्भ में ही कत्ल कर डालने पर आमादा होते हैं। यह प्रक्रिया बेहद क्रूर होती है और इसमे भ्रूण को काट-काट कर निकाला जाता है। यानी एक ऐसी नृशंस हत्या जो शायद जल्लाद या कसाई भी करने की हिम्मत न जुटा सके। ऐसे लोग यह जानते हुए भी यह हत्या कराते हैं कि इससे उनके घर की गृह-लक्ष्मी कही जाने वाली महिला की मौत हो सकती है या फिर वह जिन्दगी भर के लिए मां बनने से वंचित हो सकती है। लेकिन ऐसे दुष्कर्मियों को खूब पता है कि एक गृह लक्ष्मी अगर मर भी गयी तो दूसरी उन्हें आसानी से मिल जाएगी। पूर्वांचल की गरीबी इस आग में घी का काम करती है और इसमें सहयोग करते हैं धन्वन्तरि कहे जाने वाले डाक्टर।---

Dr. DeoPrakash Singh, Jaunpur

I am medical practitioner and still seeing very frequently female patient in my clinic who got sex determination done from my district or nearby and M.T.P. was conducted by some qualified/non-qualified person. They come to hospita...l in dying condition and I feel helpless. Many comes with wood piece in uterus or ruptured uterus, intestine perforation, PUS collection in abdomen or omentum in uterus and maximum even after surgery don’t survive. If any survive then there will be adhesion in abdomen or she will not fit for next issue.

Matter is not that I or We are against boys. But here matter is that many female patient are dying after sex determination of fetus. If u or anyone see someone dying in front of you, I don’t think that u or whoever present that time will silent. And not react. Its next to impossible. For husband or his family its doesn’t matter, after few months he will marry. But think about that female, what was her mistake. She lost her life and even female fetus also.

I personally feel that it should be stopped after all we are human being. You have seen discovery channel, any animal baby died her mother will be there for so many days then being human being why we are killing & against female gender. Statistics shows those who are well educated and have enough money, mostly they are involved in this Female Foeticide. Its really shameful.

I don’t like my professional colleague who are involved in this act and earning money and saying that they are doing social service to those parents.

We are talking to stop female foeticide by educating society but its totally wrong. This can be immediately stopped by help of administration to sieze those centre and that doctor or unqualified person should be behind bar. There is no other way.
See More

Pellentesque et nibh magnis suspendisse

Eget Nam porttitor amet at wisi vel faucibus mauris lacinia justo. Et Vestibulum tortor tempus lorem nec consectetuer Morbi Vestibulum nibh ultrices. Curabitur nibh In condimentum In consectetuer Curabitur faucibus orci Curabitur augue. Pulvinar pulvinar Integer ut mauris tempor suscipit et pretium id fames. Consectetuer faucibus quis vel Suspendisse lacinia convallis nec.

Read more...

RIM's Profits Shrink as BlackBerry Technology Ages (NewsFactor)

Integer ut mauris tempor suscipit et pretium id fames. Augue nec rhoncus mus montes interdum a consectetuer vitae Aenean Nulla. Mauris at Nulla Mauris ut sapien congue tellus In Morbi et. At auctor neque eros nec Nam a tortor id Integer Nullam. Ultrices et gravida adipiscing a felis metus Sed tempus laoreet elit.

Read more...

Page 235 of 237