Meri Bitiya

Tuesday, Nov 12th

Last update02:57:01 PM GMT

मेरी बिटिया डॉट कॉम अगर आपको पसंद हो, आप इस पोर्टल के लिए सुझाव, समाचार, निर्देश, शिकायत वगैरह भेजने के इच्‍छुक हों तो meribitiyakhabar@gmail.com पर हम आपकी प्रतीक्षा कर रहे है.

Advertisement

मेरी कोख में पलता भ्रूण कोई लोथड़ा नहीं, मेरा अंश है

झकझोर दिया 'ना मारी मां, मैनूं वी जिउण दियो' नाटक ने

अमृतसर : 'मेरी कोख में पल रहा भ्रूण केवल मांस का लोथड़ा नहीं है। मेरा अपना अंश है। मैं उसको महसूस करती हूं। उससे बातें करती हूं। फिर कैसे उसको मार दूं..।' एक बेबस मां का चरित्र निभा रही छात्रा मानसी के वक्तव्य ने समाज में व्याप्त 'कन्या भ्रूण हत्या' कुरीति के खिलाफ दर्शकों को झकझोर दिया। मौका था वीरवार को 'रोल प्ले' प्रतियोगिता के दौरान मंचित 'मैनूं जिउण दियो' नाटक का। यह प्रतियोगिता सरकारी सीसे. स्कूल गोल बाग में आयोजित की गई।

एक अन्य छात्रा काजल ने अपनी भूमिका के दौरान महिला के चरित्र की गाथा यूं बयां की 'हमारे समाज में महिला की हालत देख रहे हो आप, यदि वह पानी की मछली होती तो बच जाती, यदि वह उड़ने वाली चिड़िया होती या जंगल की हिरनी होती तो भी बच जाती, पर वाह! ओए इंसान जानवरों जितना भी नहीं ईमान'। यह शब्द इंसान को उसकी वास्तविकता का अहसास करवा गए। विद्यार्थियों ने रोल प्ले के माध्यम से समाज में व्याप्त कन्या भ्रूण हत्या की कुरीति पर कटाक्ष कर समाज को लड़की को पेट में ही न खत्म करने का संदेश दिया।

'धीयां दा सत्कार करो, पुत्तरां वांगू प्यार करो..' छात्राओं द्वारा पेश पंक्ति दिल को छू गई। ब्लाक स्तरीय रोल प्ले प्रतियोगिता में 17 ब्लाकों ने शिरकत की। इसके लिए अमृतसर वन से छह ब्लाक तक के विद्यार्थियों ने सरकारी सीसे स्कूल गोल बाग में भाग लिया। वहीं ब्लाक तरसिक्का, रइया वन, टू, जंडियाला गुरु, मजीठा वन, मजीठा टू के विद्यार्थियों ने सरकारी सीसे स्कूल राम बाग गेट, अजनाला वन, टू, चुगावां वन व टू तथा वेरका ब्लाक के विद्यार्थियों ने सरकारी कन्या सीसे. स्कूल माल रोड में आयोजित रोल प्ले प्रतियोगिता में भाग लिया।

इससे पूर्व प्रिंसिपल स्वीट इंद्र कौर ने अध्यापकों व बच्चों का स्वागत किया। प्रदीप कालिया ने प्रोग्राम का संचालन किया। मंदीप कौर व रवि शर्मा ने प्रोग्राम के दौरान सहयोग किया। डीआरपी (एसएस) जसविंदर कौर ने बताया कि डीजीएसई काहन सिंह पन्नू व एएसपीडी (एसएस) जसविंदर सिंह के निर्देशानुसार बच्चों में समाज के प्रति जागरूकता लाने के लिए रोल प्ले प्रतियोगिता करवाई जा रही है।

रोल प्ले 'मैनूं जिउन दियो' में बेटी की पुकार से दर्शक भावुक हो गए। इस रोल प्ले के डायलॉग मंदीप कौर व रवि शर्मा ने लिखे थे। अदाकारी करने वाले मानसी, काजल, शोभा व सिमरन पहले ही पंजाब नाट्यशाला में नाटक 'डॉटर आफ बिन' में अदाकारी का लोहा मनवा चुके हैं। इन कलाकारों ने 'मैनूं जिउन दियो' रोल प्ले को जीवंत कर दिया।

Comments (0)Add Comment

Write comment

busy