Meri Bitiya

Thursday, Jun 21st

Last update12:38:55 PM GMT

मेरी बिटिया डॉट कॉम अगर आपको पसंद हो, आप इस पोर्टल के लिए सुझाव, समाचार, निर्देश, शिकायत वगैरह भेजने के इच्‍छुक हों तो meribitiyakhabar@gmail.com पर हम आपकी प्रतीक्षा कर रहे है.

Advertisement

देवरिया में छह महीने का गर्भ गिराया हत्‍यारे डॉक्‍टर ने

: यूपी के कैबिनेट मंत्री सूर्यप्रताप शाही के घर के बगल में ही संचालित होता है यह ग्‍लोबल हॉस्पिटल : आयुष डॉक्‍टर की ख्‍याति अबॉर्शन स्‍पेशलिस्‍ट की तरह, डॉक्‍टर फरार : आशा कार्यकर्ता के सहयोग में गर्भपात करने का चोखा धंधा : सीएमओ आफिस उगाहता है ऐसे अस्‍पतालों से मोटी रकम :

गौरव कुशवाहा

देवरिया : शहर के राघव नगर स्थित एक प्राइवेट अस्पताल में गैरकानूनी ढंग से नाबालिंग किशोरी का एबॉर्शन किये जाने की गुप्त सूचना पर देवरिया बाल कल्याण समिति की महिला टीम पहुँची। जहाँ लगभग 17 वर्ष की नाबालिंग किशोरी संदिग्ध हालात में मिली। मामला संदिग्ध देख सीडब्ल्यूसी की सदस्य कनकलता द्विवेदी ने अस्पताल संचालक से किशोरी की जांच रिपोर्ट और दवाई के बारे में पूछने पर अस्पताल संचालक टालमटोल करते हुए बोला कि किशोरी का इलाज डॉ ए के मिश्रा कर रहे है वही बता सकते है। मुझे कुछ नही पता है। टीम ने जब किशोरी का इलाज कर रहे डॉक्टर को बुलाने के लिए कहा तब संचालक ने बताया कि डॉक्टर भाजपा के नेता है और किसी मीटिंग में गए है।उनको फोन कर दिया गया है जल्द ही वो आ जाएंगे।सीडब्ल्यूसी की सदस्यता प्रतिभा श्रीवास्तव ने जब किशोरी के एबॉर्शन के बारे में पूछा तब संचालक टीम को अपनी ऊची रसूख की धमकी देने लगा कि हम भी देखते है आप लोग मेरा क्या बिगाड़ लेते हैं। मेरे हॉस्पिटल में जो हो रहा हैं वो सभी प्राइवेट अस्पतालों में होता हैं।

शहर के राघव नगर स्थित कैबिनेट मंत्री सूर्यप्रताप शाही के मकान से महज 20 कदम दूर स्थित ग्लोबल हॉस्पिटल अवैध ढंग से संचालित हो रहा हैं। जिसमे न तो कोई डॉक्टर उपलब्ध है और ना ही कोई प्रशिक्षित कर्मचारी। सूत्रों का दावा है कि इस अस्पताल में एक आयुष डॉक्टर है जो अंग्रेजी दवाओं के साथ एबॉर्शन स्पेशलिस्ट के रूप में जाना जाता हैं। मानक की धज्जियां उड़ाते हुए इस अस्पताल में हर रोग का इलाज और ऑपरेशन किया जाता है। तय मानक के खिलाफ ये हॉस्पिटल वर्षो से चिकित्सा विभाग के सहभागिता से चल रहा हैं।यही नही इस अस्पताल में आशा कार्यकर्तियो को डिलेवरी एबॉर्शन और अन्य ऑपरेशन व उपचार के लिए कमीशन के रूप में मोटी रकम भी दी जाती है। जिसके लालच में आशाएं यहाँ मरीजो को ले आती हैं। गौरतलब बात है कि जिले का मुख्‍य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय ऐसे अवैध हॉस्पिटल को नियमित रूप से मोटी रकम उगाहते हैं।

डॉक्‍टरों से जुड़ी खबरों को देखने के लिए निम्‍न लिंक पर क्लिक कीजिए:-

भगवान धन्‍वन्तरि

शुक्रवार की दोपहर एक आशा कार्यकर्ती 17 वर्षीय किशोरी और उसके परिजनों को साथ लिए ग्लोबल हॉस्पिटल पहुचीं और एबॉर्शन के लिए भर्ती कराया। ग्लोबल हॉस्पिटल के संचालक रामजीत शर्मा ने एबॉर्शन के लिए 30 हजार की माग की। मगर पूरा मामला 24 हजार में सेट हुआ। संचालक शर्मा ने किशोरी के परिजनों ने एडवांस के तौर पर 10 हजार जमा करवाया और ईलाज शुरू कर दिया। इलाज के थोड़ी देर बाद ही किशोरी की तबियत बिगड़ने लगी।बाल कल्याण समिति की सदस्य कनकलता द्विवेदी ने गैरकानूनी ढंग से नाबालिंग किशोरी की हो रहे एबॉर्शन की जानकारी एसपी रोहन पी कनय को दी।सूचना दिए जाने के करीब एक घंटे बाद पुलिस अस्पताल पहुचीं।पुलिस के पहुचते ही संचालक रामजीत शर्मा पुलिस को चकमा दे कर फरार हो गया।

किशोरी की हालत बिगड़ता देख सीडब्ल्यूसी की टीम ने पुलिस के सहयोग से किशोरी को जिला महिला अस्पताल भिजवाया। जहा उसका इलाज चल रहा हैं।वहीं किशोरी को इलाज के लिए ग्लोबल हॉस्पिटल में भर्ती कराने वाली आशा कार्यकर्ती ने बताया कि किशोरी 6 माह की गर्भवती हैं। जिसके एबॉर्शन के लिए वो किशोरी को लेकर वहाँ आयी थी।आशा कार्यकर्ती ने ये भी कबूल किया कि वो पहले भी ग्लोबल हॉस्पिटल में डिलेवरी समेत अन्य इलाज के लिए आ चुकी हैं।

वहीं सूत्र बताते हैं कि इस अस्पताल में ईलाज के आड़ में गैरकानूनी ढंग से एबॉर्शन किया जाता है और तगड़ी फीस वसूली जाती हैं।टीम की सदस्या रंजना तिवारी ने बताया कि एक आशा कार्यकर्ती द्वारा नाबालिंग बालिका का एबॉर्शन कराने के लिए ग्लोबल हॉस्पिटल लाया गया था।पूरा मामला 24 हजार में तय हो हुआ।हॉस्पिटल में एक भी प्रशिक्षित स्टाफ नही हैं। प्रशासन के सहयोग से हॉस्पिटल के विरुद्ध कार्यवाही की जाएगी। सूत्र ये भी दावा करते है कि देवरिया जनपद के लगभग 90 फीसदी प्राइवेट अस्पतालों में गैरकानूनी ढंग से भ्रूण जांच और एबॉर्शन का धंन्धा बहुत तेजी से फल फूल रहा हैं।

देवरिया से जुड़ी खबरों को देखने के लिए निम्‍न लिंक पर क्लिक कीजिए:-

देवारण्‍य

Comments (0)Add Comment

Write comment

busy