Meri Bitiya

Wednesday, Nov 13th

Last update02:57:01 PM GMT

मेरी बिटिया डॉट कॉम अगर आपको पसंद हो, आप इस पोर्टल के लिए सुझाव, समाचार, निर्देश, शिकायत वगैरह भेजने के इच्‍छुक हों तो meribitiyakhabar@gmail.com पर हम आपकी प्रतीक्षा कर रहे है.

Advertisement

आईएएस की लिखित परीक्षा में टॉपर से 2 नम्बर कम, रैंक मिली 177

: कप्‍तान से डीएम के पाले में कूदे कासिम आब्दी के पिता को है मलाल : अहिरौली के आब्‍दी ने आईआईटी की तैयारी की थी, लेकिन  सिविल सर्विसेज में सलेक्‍ट हो गये : लिखित में दो नम्‍बर, और इंटरव्‍यू में 70 नम्‍बरों का लोचा ही रैंकिंग बिगाड़ गया :

राजकुमार सिंह

जौनपुर : यहां के एक गांव में जन्मे एस एम कासिम आब्दी ने आई ए एस में 177 वी रैंक हासिल कर न केवल अपने गांव परिवार और जिले का नाम रोशन किया बल्कि अपनी दिली मुराद भी पूरी की! उसे आई ए एस बनने का ऐसा जुनुन सवार हुआ कि 2016 में आई पी एस में चयनित होने के बाद भी तैयारी जारी रखी और कामयाबी की बुलन्दी को हासिल किया। कासिम के पिता को मलाल इस बात का है कि देश की सबसे बडी संघ लोक सेवा आयोग की लिखित परीक्षा में टापर से मात्र 2 नम्बर कम पाने वाले को 177 वी रैंक मिली। लेकिन इंटरव्यू के नम्बरों ने उसकी रैंक को बिगाड़ दिया। हालांकि आब्दी के पिता अपने बेटे के कमाल से बेहद खुश है। पूरे घर में जश्‍न का माहौल है।

जौनपुर जिले के सदर तहसील के अहिरौली गांव निवासी सैय्यद अकबर आब्दी के बेटे एस् एम कासिम आब्दी की प्रारम्भिक शिक्षा से कक्षा 10 तक की पढाई सेन्ट पैक्ट्रिक स्कूल पन्चहटिया से हुई!  इसके बाद इंटर तक की पढाई रिजवी लर्नर्स सुतहट्टी से करने के बाद 2004 में आई आई टी की परीक्षा  दी  जिसमे सेलेक्शन नही हो पाया।  इसी बीच बन्सल कोचिंग कोटा में सेलेक्शन हो गया। 2005 में आई आई टी की प्रवेश परीक्षा में सफ़ल हुये और बी एच यू से सेरेमिक में इन्जीनीयरिन्ग की डिग्री  प्राप्त की!  2011 से दिल्ली में तैयारी करते हुये आई ए एस की परीक्षा में शामिल हुये।  2016 में 186 वी रैंक हासिल कर IPS बन कर जिले का नाम रोशन किया ! कासिम को इससे सुकुन मही मिला।  उन्होने IPS की ट्रेनिंग हैदराबाद में शुरु कर दी लेकिन IAS के लक्ष्य को ध्यान में रखकर तैयारी भी जारी रखी और 2017 में 177वी रैंक हासिल कर IAS बन गये।  उनकी इस सफ़लता से उनका पुरा परिवार व गांव खुश है।

सतहरिया पेप्सी कम्पनी में एच आर मैनेजर के पद से सेवानिवृत्त कासिम के पिता अकबर आब्दी को कष्‍ट इस बात का है कि उनका लडका टाप टेन में क्यों नही आया। जौनपुर के आब्दी को लिखित परीक्षा में 50% से अधिक नम्बर और इंटरव्यू में 47 फीसदी , 2017 में आईएएस परीक्षा में आल इंडिया में टॉप करने वाली कर्नाटक की नंदिनी केआर को लिखित परिक्षा में 1750 में मिले हैं 884 नम्बर जबकि जौनपुर के कासिम आब्दी को लिखित परीक्षा में मिला 1750 में 882 नम्बर। जबकि इंटरव्यू में टॉपर नंदिनी के आर को मिले 300 में 210 नम्बर और जौनपुर के आब्दी को मात्र 140 नम्बर।

Comments (0)Add Comment

Write comment

busy