Meri Bitiya

Wednesday, Dec 11th

Last update02:57:01 PM GMT

मेरी बिटिया डॉट कॉम अगर आपको पसंद हो, आप इस पोर्टल के लिए सुझाव, समाचार, निर्देश, शिकायत वगैरह भेजने के इच्‍छुक हों तो meribitiyakhabar@gmail.com पर हम आपकी प्रतीक्षा कर रहे है.

Advertisement

सम्मान के नाम पर सुनाया मौत का फरमान!

बिजनौर में फिर सुनाई पडी ऑनर किलिंग की धमक

बिजनौर में युवक को गंडासे से काट कर मार डाला गया: अपनी ही बेटी पर केरोसिन डाल कर जलाने जा रहे थे घरवाले: प्रेम को आखिरकार मौत के घाट उतार दिया गया

सम्मान या शर्मनाक!सम्मान के नाम पर फिर एक खौफनाक फैसला सुना दिया गया। अपनी बेटी को उसके प्रेमी के साथ देख कर परिवार वाले इस कदर आग-बबूला हो गये कि उन्होंने बेटी केसम्मान में छुप जाता है बच्चों के प्रति प्रेम? प्रेमी को तो गंडासे से टुकडे-टुकडे काट डाला, जबकि इस नृशंस हत्याकाण्ड को रोकने की कोशिश कर रही बेटी पर मिट्टी का तेल डाल कर उसे आग के हवाले करना चाहा। वह तो गनीमत रही कि उधर से गुजर रहे पुलिस के एक गश्ती दल को मामले की भनक लग गयी और बेटी को बचा लिया गया।
कथित मान-सम्मान की खातिर प्रेमिका के परिजनों ने पहले प्रेमी को धारदार हथियारों से काट डाला और प्रेमिका को मिट्टी का तेल छिड़ककर आग के हवाले कर दिया। प्रेमिका चिकित्सालय जिंदगी और मौत के बीच झूल रही है।
हल्दौर थाना क्षेत्र के ग्राम ऊमरी बड़ी निवासी 32 वर्षीय मोहम्मद तौफीक खासपुरा में पिछले आठ साल से पीसीओ एवं मोबाइल शॉप चला रहा था। दुकान के सामने सरदार गुरचरन सिंह का मकान है। सरदार गुरचरन की 20 वर्षीय पुत्री रोशनी अक्सर रिचार्ज कूपन खरीदने तौफीक की दुकान पर आती थी। इस दौरान दोनों के बीच पे्रम संबंध हो गए को इसकी जानकारी दोनों के परिजनों को नहीं हो सकी।
बताया जा रहा है कि मंगलवार की रात करीब नौ बजे तौफीक दीवार फांदकर पे्रमिका के घर पहुंचा। इस दौरान लड़की के परिजनों ने दोनों को आपत्तिजनक स्थिति में देखकर तौफीक को पकड़ लिया। आरोप है कि परिजनों ने तौफीक को धारदार हथियारों से काटकर मौत के घाट उतार दिया। बाद में रोशनी पर भी मिट्टी का तेल छिड़का और आग लगाकर मारने का प्रयास किया।
इसी बीच दो गश्ती पुलिस कर्मियों के पहुंचने से वे अपने मकसद में कामयाब नहीं हो सके। गश्ती दल की सूचना के बाद मौके पर पहुंचे पुलिस अफसरों ने आग से झुलसी रोशनी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया और तौफीक का शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा। घटना की सूचना पाकर एएसपी (ग्रामीण) आरके राजवंशी एवं सीओ सिटी अशोक कुमार गांव में पहुंचे। मौके से सरदार गुरचरन की पत्नी सतनाम कौर, पुत्री सपना तथा रोशनी की मामी शोभा पत्नी राजू को हिरासत में ले लिया गया। अन्य आरोपी फरार हो गए। घटना से तौफीक के परिवार में कोहराम मचा है तथा घटना के बाद से गांव में सन्नाटा है। तनाव की स्थिति देखते हुए पुलिस व पीएसी बल गांव में तैनात है। इस मामले में गांव के चौकीदार की ओर से अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।
इधर, मृतक तौफीक के भाई इरफान ने प्रेमिका के परिवार के सात लोगों को नामजद करते हुए एक तहरीर पुलिस को दी है

Comments (0)Add Comment

Write comment

busy